हैलो दोस्तों, आज के इस आर्टिक्ल में आप जानेंगे What is Web Hosting and Domain Name. अगर आप नए blogger हैं तो आपके मन में कई प्रश्न उठेंगे जैसे What is Web Hosting?, What is a Domain name?, How Domain name works?, What is DNS?.

यकीन मानिए आप अकेले नहीं हैं जिनके मन में इस तरह के प्रश्न उठ रहे हैं, बहुत से लोग जब ब्लॉगिंग शुरू करते हैं तो उनके मन में इसी तरह के प्रश्न उठते हैं।

ये सारे Topics एक दूसरे से जुड़े हुए हैं। आप अगर Web Hosting और Domain Name को detail में समझेंगे तो आपको ये सारे टॉपिक बड़े आराम से clear हो जाएंगे। समझ लीजिये की इन सारे Topics को समझने के बाद आप website या blog बनाने का पहला स्टेप क्लियर कर लेंगे।

तो चलिये एक-एक करके सारे Topics को देखते हैं।

What is Web Hosting and Domain Name

Domain Name की है? (What is Domain Name?)

बात करें अगर Domain Name की तो Domain Name आपकी वैबसाइट का वो address होते हैं जो लोग अपने browser में type (Ex: nerdyvarun.com) करते हैं आप की वैबसाइट तक पहुँचने के लिए।

अब बात करेंगे Hosting की लेकिन उससे पहले आपको समझना होगा Website क्या है।

Website: आसान भाषा में website कई image, text, web pages, videos का collection होती है।

Web Hosting क्या है? (What is Web Hosting?)

Web Hosting वो online service होती है जिसकी मदद से आप अपनी वैबसाइट को इंटरनेट पर ले जा पाते हो। जब आप कोई Web Hosting service (जैसे Godaddy, Bigrock, Hostgator etc) खरीदते हैं, जिसका मतलब होता है आप किराए पर server ले रहे हैं जहाँ आपकी website के सारे files जैसे image, text, web pages, videos store होंगे।

अब चलिये इन तीनों को एक साथ example के साथ देखते हैं।

Domain name आपके घर के address की तरह है, Website आपके घर की तरह और Web Hosting (Server) वो ज़मीन है जहाँ आपका घर बना है।

जिस तरह आपके घर तक पहुँचने के लिए लोगों को आपके घर के Address की जरूरत पड़ती है उसी तरह से इंटरनेट पे किसी की Website तक पहुँचने के लिए आपको उसके domain name यानि website के नाम की जरूरत पड़ती है।

आशा है आपको तीनों चीजें एकदम अच्छी तरह समझ आ गयी होंगी।

अब देखते हैं की हमे Domain Name की जरूरत क्यूँ पड़ी इसी बहाने आपको IP address के बारे में भी जानकारी मिल जाएगी।

Why Domain Name is needed?

पहले हम थोड़ा जान लेते हैं Internet क्या है और IP address क्या हैजिससे की हमे Why Domain name is needed को समझने में आसानी होगी।

इंटरनेट क्या है? (What is Internet?)

इंटरनेट एक बहुत बड़ा नेटवर्क है जिसमे बहुत सारे computers होते हैं जो एक दूसरे से connected रहते हैं, जिसकी वजह से ये आपस में communicate कर सकते हैं।

IP Address क्या है? (What is IP address?)

इतना बड़ा नेटवर्क होने की वजह से इसमे हर कम्प्युटर को एक IP address दिया जाता है जो की unique होता है, जिससे की हर कम्प्युटर की अलग से पहचान हो सके। ठीक उसी तरह जैसे किसी स्कूल या college में हर students का एक अलग registration number होता जिससे की उसकी अलग पहचान हो सके।

IP Address एक नंबर की series होती है जो की कुछ इस तरह की दिखती है।

35.213.136.191 

अब आप Internet और IP address के बारे में अच्छी तरह समझ चुके हैं, अब बात करते हैं Domain name की जरूरत क्यूँ पड़ी?

Domain NameIP Address
www.nerdyvarun.com35.213.136.191

ऊपर आपको nerdyvarun की वैबसाइट का लिंक(Domain name) और उसका IP address दोनों दिया गया?

अब आप बताइये आप किसको जल्दी और ज़्यदा दिन तक याद रख पाएंगे?

ज़हीर है आपका जवाब होगा Domain Name को ज़्यदा जल्दी और ज़्यदा दिन तक याद रख पाएंगे।

अब आप समझ गए होंगे Domain Name की जरूरत क्यूँ पड़ी, ताकि हम website के address को आसानी से याद रख सके। जैसे की आपको nerdyvarun की website तक पहुँचने के लिए आपको सिर्फ उसके Domain Name को याद रखें की जरूरत है, IP address नहीं।

आशा है अब आप समझ गए होंगे हमे Domain Name की जरूरत क्यूँ पड़ी।

अब हम देखेंगे की Domain name आखिर काम कैसे करता है (How domain name works?) मतलब जब हम किसी website पर जाने के लिए वैबसाइट का address डालकर enter press करते हैं तो background में क्या-क्या होता है।

How domain name works?

  1. सबसे पहले जब आपको किसी वैबसाइट पर जाना होता है तो आप उसका URL यानि Domain Name enter करते हैं अपने ब्राउज़र में।
  2. वैबसाइट का address enter करने के बाद आपकी request जाती है एक Server के Global Network पर जो मिलकर DNS (Domain Name System) बनती है जिसका काम होता है Website के address (Domain Name) को IP address में convert करना क्यूंकी web browser (Chrome, Internet Explorer etc) IP Address की मदद से ही website को access कर पता है।
  3. उसके बाद ये Nameserver (Server) को खोजता है जो आपके Domain Name से associated होता है और फिर आपकी request को वहाँ transfer कर देता है।

चलिये इसे और अच्छे से समझ लेते हैं, जैसे की अगर आपकी वैबसाइट Godaddy पे आप ने Host की है या डाली है तो उसका nameserver कुछ इस तरह से दिखेगा:

ns1.godaddy.com

Ns2.godaddy.com

ये nameserver वो computer है जो आपकी Hosting company manage करती है। आपकी Hosting Company nameserver की मदद से आपकी request को उस computer पे ट्रान्सफर करती है जहां आपकी website मौजूद है।

इन computers को web server कहा जाता है, इसके बाद ये web server website के पेज को आपको वापस भेज देता है जिससे वैबसाइट का पेज आपके computer के screen पे दिखने लगता है।

इसे भी पढ़ें: Bigrock से Godaddy पर Domain Transfer कैसे करें और पैसे बचाएं।

तो दोस्तों आप लोगों ने देखा Domain और Hosting क्या है वो किस तरह से एक दूसरे से अलग हैं, IP Address, Internet, DNS और पूरा background का प्रोसैस भी अपने देखा।

आशा है आपको काफी कुछ जानकारी मिली होगी इस article से। मेरा यही target है की आपको सही जानकारी आसान भाषा में मिल सके

आप इस पूरे टॉपिक का विडियो भी देख सकते हैं, NerdyVarun के YouTube channel पर में आपको लिंक दे देता हूँ।

अगर आपको विडियो पसंद आता है तो चैनल को Subscribe करके bell Notification Icon पर ज़रूर क्लिक कर दीजिये ताकि आपको आगे के सारे विडियो का notification मिल सके।

Read Related Article On: How To Choose A Domain Name (Article By Digital Deepak)

कमेंट करके ज़रूर बताएं की आपको ये जानकारी कैसी लगी जिससे की मुझे पता चल सके की में आपकी मदद कर पा रहा हूँ या नहीं। अगर आपका कोई प्रश्न है तो आप मुझसे कमेंट सेक्शन में पूछ सकते हैं, मैं आपकी मदद करने की पूरी कोशिश करूंगा।

Other Articles :

2 Comments

Write A Comment